Biography of Madhubala

Madhubala : Dard Ka Safar
मधुबाला को गुजरे कई दशक बीत चुके हैं इसके बावजूद अपने सौंदर्य और अपने अभिनय की बदौलत वह आज भी भारतीय सिनेमा की आइकन बनी हुई है।
भारतेन्दु हरिश्चन्द्र पुरस्कार से सम्मानित लेखिका सुशीला कुमारी लिखित मधुबाला की जीवनी ‘‘मधुबालाः दर्द का सफर’’ अप्रतिम सौंदर्य की मल्लिका मधुबाला के दुख एवं संर्घष भरे जीवन एवं उनकी अविस्मरणीय फिल्मों पर आधारित है जिसमें मधुबाला के जीवन से जुड़े अत्यंत दुर्लभ प्रसंगों तथा पहलुओं का विस्तार से जिक्र किया गया है।
इस पुस्तक को प्राप्त करने तथा इस पुस्तक के बारे में अधिक जानकारी के लिये आप या तो screenindia@gmail.com या screennews@gmail.com पर मेल भेज सकते हैं.

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

Publisher & Distributor of Books on Cinema

%d bloggers like this: